Entertainment

‘आदिपुरुष’ के निर्माताओं के खिलाफ कानूनी नोटिस हुआ जारी, रामायण के इस्लामीकरण का लगा आरोप

साउथ सुपरस्टार प्रभास की फिल्म आदिपुरुष का टीज़र जब से आया है तभी से ये विवादों में घिर गया है। इस फिल्म ेन रावण के लुक की और भगवान हनुमान के लुक को दर्शक बिल्कुल पसंद नहीं कर रहे हैं और सोशल मीडिया पर इसका लगातार विरोध कर रहे हैं। अब इसी बीच खबर है कि रामायण पर आधारित इस फिल्म के निर्देशक ओम राऊत को सर्व ब्राह्मण महासभा की ओर से गुरुवार को नोटिस जारी किया गया है जिसमें इस फिल्म से विवादित दृश्यों को हटाने की मांग की गई है। ऐसा नहीं किये जाने पर फिल्म के निर्माताओं के खिलाफ कानूनी कारवाई करने की चेतावनी दी गई है।

सर्व ब्राह्मण महासभा ने भेजा फिल्म के निर्देशक को नोटिस

बता दें कि फिल्म आदिपुरुष के निदेशक को सर्व ब्राह्मण महासभा की ओर से वकील ने एक नोटिस भेजा है जिसमें लिखा है कि इस फिल्म में हिन्दू देवी और देवताओं का चित्रण गलत तरीके से किया गया है। इसमें हनुमान जी को चमड़े के अंगवस्त्र में दिखाया गया है जो कि बिल्कुल गलत है। इसके अलावा फिल्म में जो भाषा उपयोग की गई है वो भी बहुत ही निम्न स्तर की है जिससे हमारी धार्मिक भावनाओं को ठेस पँहुचती है।

फिल्म में जातिसूचक और धर्म सूचक शब्दों का भी प्रयोग किया गया है और इसके साथ ही भगवान हनुमान को मुगल के तौर पर दिखाया गया है क्योंकि उनके ढाढ़ी है पर मूंछ नहीं। ऐसे में ये हमारे भगवान का गलत चित्रण है।

आदिपुरुष रामायण का इस्लामीकरण करती है

Kriti Sanon And Saif Ali Khan Starrer Film Heavily Trolled For Its  Animation - Disappointing Adipurush: प्रभास की आदिपुरुष के टीजर की हो रही  थू-थू, लोग बोले- ये टेंपल रन क्‍यों बना

इसी नोटिस में आगे कहा गया है कि कोई भी हिन्दू देवी या देवता बिना मूछों के दाढ़ी नहीं रखते हैं और हनुमान जी को इस फिल्म में ऐसे ही चित्रित किया गया है। ये फिल्म आदिपुरुष भगवान राम, माँ सीता और हनुमान जी का पूरी तरीके से इस्लामीकरण करती है जो कि समाज के लिए बहुत घातक है। फिल्म में रावण का किरदार निभा रहे सैफ अली खान भी रावण कम और खिलजी के रूप में ज्यादा दखाई दे रहे हैं। इस फिल्म से देश में विद्रोह उमड़ सकता है जो कि बहुत घातक है।

आदिपुरुष को रामायण और रामचरितमानस के आधार पर ही बनाया जाए

इस नोटिस में ये भी कहा गया है कि अगर ये फिल्म बनानी ही है तो इसको रामायण और रामचरितमानस को ध्यान में रखकर बनाया जाना चाहिए। ऐसे में हिन्दू भावनाएँ भी आहत नहीं होंगी और फिल्म को पसंद भी किया जाएगा। नोटिस में निर्देशक को 7 दिन का समय दिया गया है और देश से माफी मांगने के लिए कहा है। ऐसा नहीं करने पर फिल्म के निर्देशक के खिलाफ कानूनी कारवाई करने के लिए कहा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button