Entertainment

एक बार फिर दिखाई सोनू सूद ने दरियादिली 4 हाथ 4 पैरों वाली बच्ची को दिया नया जीवन


सोनू सूद किसी परिचय के मोहताज नही है। वह सोशल मीडिया पर आए दिन किसी को नई जिंदगी या मदद करते नजर आते आते है। वह रियल लाइफ में किसी हीरो से कम नहीं है। वो हमेशा लोगों की मदद करने के लिए तैयार रहते हैं, और अपनी दरियादिली की मिसाल पेश करते रहते हैं।वहीं एक बार फिर उन्होंने दिल जीतने वाला काम किया है जिसके चलते वो फ़िर सुर्खियों का हिस्सा बन गए है चलिए उन्होंने क्या किया है, वो बताते हैं हम आपको।

बच्ची के पेट से निकले है 2 हाथ 2 पैर

इन तस्वीरों को देखने के बाद यकीन करना मुश्किल होगा कि यह वही बच्ची है, जो कुछ दिन पहले अपने माता पिता के साथ सड़क पर नजर आई थी। उसके पेट से दो-दो हाथ-पैर बाहर निकले हुए थे। ढाई साल की चहुंमुखी कुमारी नवादा जिले के वारसलीगंज प्रखंड के सौर पंचायत के हेमदा गांव की रहने वाली है। चहुंमुखी कुमारी का सूरत के एक अस्‍पताल में सफलतापूर्वक ऑपरेशन किया गया है। किरण अस्पताल में कई घंटों के अथक प्रयास के बाद चहुंमुखी का सफलतापूर्वक ऑपरेशन हुआ। पहले में किए गए वादे के अनुसार सोनू सूद ने चहुंमुखी का ऑपरेशन करा कर उसे नई जिंदगी प्रदान की है।

बच्ची को मिली नई जिंदगी

चहुंमुखी के जन्म से ही 4 पैर और 4 हाथ थे। सोशल मीडिया पर यह बात वायरल होने पर सोनू सूद ने इसे देखा और अपनी तरफ से बच्‍ची का ऑपरेशन कराने का ऐलान किया। अब चहुंमुखी कुमारी सामान्‍य बच्‍चों की तरह पढ़ने-लिखने के साथ खेल भी सकेगी। सौर पंचायत की मुखिया गुड़िया देवी के पति दिलीप राउत, चहुंमुखी और उसके परिवार को 30 मई को लेकर मुंबई निकले थे। मुंबई पहुंचने पर सोनू सूद ने चहुंमुखी से मुलाकात की थी और उसे इलाज के लिए उसे सूरत भेजा था। सूरत में एक्‍सपर्ट डॉक्टरों की एक टीम ने चहुंमुखी का मेडिकल चेकअप किया था। इसके बाद किरण अस्पताल के डॉक्टर मिथुन और उनकी टीम ने लगभग 7 घंटे में चहुंमुखी की सफल सर्जरी की।

परिवार वालो ने किया शुक्रिया

मुखिया पति दिलीप राउत ने इस नेक काम के लिए सोनू सूद को तहें दिल से धन्यवाद भी दिया। फिलहाल मासूम बच्‍ची को कुछ दिनों के लिए और अस्‍पताल में रहना होगा। इसके बाद वह एक सामान्‍य बच्‍ची की तरह अस्‍पताल से बाहर आएगी और आम बच्‍ची की तरह रह सकेगी।सोनू सूद ने चहुमुखी की सर्जरी पर आने वाला पूरा खर्च खुद उठाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button