Entertainment

दो वक्त की रोटी कमाने के लिए पेंट करते थे फिल्म के पोस्टर्स, आज तक फेमस है नाना का यह डायलॉग

नाना पाटेकर बॉलीवुड की दुनिया का एक ऐसा नाम है,जिन्होंने अपने अभिनय से लोगों को अपना मुरीद बनाया है. नाना पाटेकर का जन्म 1 जनवरी 1951 को हुआ था.उनका असली नाम विश्वनाथ पाटेकर है.नाना पाटेकर के डायलॉग आज भी लोगों की जुबान पर चढ़े रहते हैं.नाना पाटेकर ने अपने अभिनय के जरिए लाखों-करोड़ों लोगों को अपना मुरीद बनाया है,लेकिन एक दौर ऐसा भी था जब उन्हें अपनी जिंदगी का गुजारा करने के लिए उन्हें दर-दर भटकना पड़ता था.महज 13 साल की उम्र में उन्होंने घर की जिम्मेदारी उठा ली थी और रोटी कमाने के लिए सड़कों पर उतर गए थे.स्कूल के बाद नाना पाटेकर 8 किलोमीटर दूर चुना भट्टी में काम करने जाते थे और फिल्मों में पोस्टर्स पेंट करने का काम करते थे.

नाना पाटेकर के फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1978 में फिल्म गमन से हुई थी.इसके बाद उन्होंने एक के बाद एक कई धुआंधार फिल्में की.उनकी बेहतरीन फिल्मों में गीद्द, अंकुश, प्रहार, प्रतिघात शामिल है.नाना पाटेकर अपने हर किरदार में इस कदर खो जाते हैं कि उनके डायलॉग लंबे समय तक लोगों की जुबान पर चढ़े रहते हैं. नाना पाटेकर ने हिंदी, मराठी के अलावा अन्य कई भाषाओं में काम किया है.

बॉलीवुड की दुनिया में नाना पाटेकर का नाम भले ही टॉप एक्टर्स की लिस्ट में आता हूं, लेकिन असल जिंदगी में वह बेहद आम जिंदगी जीना पसंद करते हैं.नाना पाटेकर को खाने से ज्यादा खाना बनाने का शौक है.इस बात का खुलासा उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान किया था.नाना पाटेकर ने बताया कि वह एक बहुत अच्छे कुक है.

नाना पाटेकर ने थिएटर आर्टिस्ट नीलूकांति से शादी की.नाना पाटेकर की पत्नी नीलू के साथ उनके संबंध ठीक नहीं रहे.ऐसे में यह रिश्ता ज्यादा लंबा नहीं चला और दोनों अलग हो गए,हालांकि दोनों ने कभी तलाक नहीं लिया.नाना पाटेकर की हर फिल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई.उनकी फिल्म के डायलॉग लंबे समय तक लोगों के दिलों दिमाग पर छाए रहे.उन्होंने अपने अभिनय के दम पर चार फिल्म फेयर और तीन राष्ट्रीय पुरस्कार जीतकर अपना फिल्मी सफर अब तक जारी रखा है,लेकिन क्या आप जानते हैं कि नाना पाटेकर और संजय दत्त कभी एक फिल्म में साथ नजर नहीं आए.

नाना पाटेकर संजय दत्त के साथ कभी काम नहीं करना चाहते.दरअसल 12 मार्च 1993 के दिन मुंबई में बम ब्लास्ट हुआ था, इस ब्लास्ट में संजय दत्त को दोषी पाया गया था.इसी ब्लास्ट ने नाना पाटेकर से उनका भाई छीन लिया था,तभी एक इंटरव्यू के दौरान नाना पाटेकर ने इस बात का जिक्र किया था कि- वह संजय दत्त को माफ नहीं कर सकते.इंटरव्यू में नाना पाटेकर ने बताया भले ही 1993 बम ब्लास्ट में संजय दत्त ने सजा काट ली हो, लेकिन उनके साथ कभी काम नहीं करना चाहते और ना ही करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button