Hindi Articles

पापा शाहरुख खान के लाइव कॉल में मुंबई के असली सिंघम समीर वानखेड़े ने मारा आर्यन को थप्पड़?जाने पूरा मामला

मुंबई के असली सिंघम नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े आर्यन ड्र’ग्स केस की वजह से फिर सुर्खियों में है.सुशांत राजपूत की मौत के बाद से ही बॉलीवुड का ड्र’ग्स कनेक्शन एनसीबी की राडार पर रहा है.बॉलीवुड का कोई कितना भी बड़ा एक्टर क्यो नही हो अगर समीर वानखेड़े ने पूछताछ करनी शुरू की तो वो बड़ा एक्टर भी भीगी बिल्ली बन जाता है.इस बार बॉलीवुड के किंग खान शाहरुख के बेटे आर्यन को एनसीबी ने केस में एक क्रूज शिप से गिरफ्तार किया है.ऐसे में सबकी नजर समीर वानखेड़े पर टिकी हुई है कि क्या आर्यन के साथ नरमी बरती जाएगी या इस बार भी सिंघम समीर सख्ती दिखाएंगे.

मुंबई में बॉलीवुड से लेकर पुलिस महकमे में हर जगह एक खबर तेज़ी से वायरल हो रही है ये खबर कितनी पुष्ट है फ़िलहाल कुछ नही कहा जा सकता लेकिन जिस तरह समीर वानखेड़े अपराधियों के साथ सख्ती दिखाते है उसके आधार पर कहा जा सकता है कि सिंघम समीर ने ऐसा ही किया होगा,क्योंकि पूरे बॉलीवुड में समीर वानखेड़े के नाम की तूती बोलती है खासकर लेने वालों के कान से धुंआ समीर नाम से ही उड़ जाता है.

ऐसा कहा जा रहा है कि शाहरुख खान ने समीर वानखेड़े को फोन पर कहा कि “आर्यन का ध्यान रखना” .शाहरुख का इतना कहना था और रियल लाइफ सिंघम ने किंग खान को कहा आप फोन चालू रखो काटना मत फिर आर्यन को बुलाया और ज़ोर से आर्यन के गाल पर दो तमाचे जड़ दिये.ये सुन गुस्से से तिलमिलाए शाहरुख खान को पलट कर सिंघम वानखेड़े ने कहा कि “मिस्टर खान अगर ये थप्पड़ आपने आर्यन को पहले मार दिए होते तो आज ये इस हाल में मेरे पास नही होता.आपने बच्चों को पैसा दिया,आधुनिक सुख सुविधाएं दी मगर बाप बनकर बच्चे को नही संभाल पाए ये उसी का नतीजा है,मैं जानता हूँ ये छूट जाएगा लेकिन आखिरी तक इसे अपनी गलती का एहसास होगा कि मैंने पु’लिस की मा’र खाई थी,उम्मीद है ये अब सुधर जाएगा”.ये कहकर वानखेड़े ने फ़ोन काट दिया.

40 वर्षीय समीर वानखेड़े का जन्म
मुंबई में हुआ था ,उनके पिता भी एक पुलिस अधिकारी है.समीर वानखेड़े 2008 बैच के भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) अधिकारी हैं। वानखेड़े ने एनसीबी के साथ अपने कार्यकाल से पहले एयर इंटेलिजेंस यूनिट के उपायुक्त और राष्ट्रीय जांच एजेंसी के अतिरिक्त एसपी के रूप में काम कर चुके हैं.इसके साथ-साथ उन्होंने राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) के संयुक्त आयुक्त के रूप में भी काम किया.वानखेड़े को उनके काम करने के तरीके के लिए जाना जाता है.जब वह मुंबई हवाई अड्डे पर कस्टम विभाग में थे तो वो कथित तौर पर बॉलीवुड हस्तियों के नखरों से परेशान हो गए थे.

परेशानी के पीछे की वजह बॉलीवुड हस्तियों का सामान था.समीर वानखेड़े ही वह व्यक्ति थे जिन्होंने 2011 में विश्व कप ट्रॉफी को ड्यूटी चार्ज का भुगतान करने के बाद ही मुंबई हवाई अड्डे से जाने दिया था.वानखेड़े के बारे में कहा जाता है कि वो खुद बॉलीवुड के प्रशंसक हैं,क्योंकि उनकी पत्नी क्रांति रेडकर एक मराठी अभिनेत्री है हिंदी फिल्म गंगाजल में उन्होंने डेब्यू किया था.समीर वानखेड़े का साल 2010 में महाराष्ट्र सेवा कर विभाग में ट्रांसफर हुआ.तब समीर ने टैक्स चो’री के लिए बॉलीवुड की 200 मशहूर हस्तियों समेत 2500 लोगों के खिलाफ केस किया था.तब उन्होंने मात्र दो साल में 87 करोड़ रुपये का राजस्व सरकारी खजाने में जोड़ा था,जो मुंबई में एक रिकॉर्ड बन गया है.

22 नवंबर 2020 को पेडलर्स द्वारा किए गए हमले में वानखेड़े और एनसीबी के पांच अन्य अधिकारी घा’यल भी हो गए थे.हालांकि समीर वानखेड़े को भी मामूली चोट ही आई थी.समीर वानखेड़े बॉलीवुड एक्ट्रेसेस के नखरों से भी परेशान हो गए थे. जैसा कि सभी जानते है कस्टम ड्यूटी से गुजरते वक्त हर यात्री को अपना सामान खुद उठाना पड़ता है,लेकिन बॉलीवुड स्टार्स अपने असिस्टेंट से सामान उठवाते थे, वानखेड़े के मुताबिक, वो ऐसा इसलिए करते थे ताकि विदेश से ज्यादा सामान लाने पर उन्हें रोका न जाए,क्योंकि अधिकारी उनके असिस्टेंट को नहीं रोक सकते थे.

इसके बाद उन्होंने तय कर दिया कि हर यात्री अपना सामान खुद ही उठाएगा.वानखेड़े ने आज तक को दिए एक इंटरव्यू में बताया था, ‘सेलेब्रिटीज माहौल बनाते थे.वो मुझे ध’मकी देते थे कि वो सीनियर्स से मेरी शिकायत करेंगे, लेकिन जब मैं उन्हें बताता था कि यहां सबसे सीनियर मैं ही हूं तो उनके पास लाइन में लगने के अलावा और कोई रास्ता नहीं होता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button