Hindi Articles

शाहरुख खान पर बुरी तरह भड़क गए थे सनी देओल, गुस्से में फाड़ दी थी पैंट

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर सनी देओल की गिनती उन एक्टर्स में होती है, जिन्हें बहुत जल्दी और बहुत ज्यादा गुस्सा आता है। सनी ने साल १९८३ में फिल्म बेताब से अपने करियर की शुरुआत की थी। इस फिल्म में उनके साथ अमृता सिंह लीड रोल में थीं। फिल्म में सनी देओल का रोमांटिक अंदाज देखने को मिला था। हालांकि, उसके बाद उन्होंने कई ऐसी फिल्मों में काम किया था, जिसमें उनका दमदार व खूंखार रूप देखने को मिला था। रियल लाइफ में भी एक बार लोगों को सनी के गुस्से का सामना करना पड़ा था। जब शाहरुख खान के कारण उन्हें इस कदर गुस्सा आया कि उन्होंने अपनी पैंट ही फाड़ दी।

ये वाक्या साल १९९१ का है, जब सनी देओल फिल्म डर की शूटिंग कर रहे थे। फिल्म में सनी देओल और जूही चावला लीड रोल में थे। वहीं, शाहरुख खान ने विलेन का रोल प्ले किया था। उस वक्त सनी एक सीनियर और सफल एक्टर थे। जबकि शाहरुख का करियर बस शुरू ही हुआ था।

सनी देओल ने साल २००१ में फिल्मफेयर को दिए इंटरव्यू में डर फिल्म की शूटिंग बुरे अनुभव के बारे में बात की थी। उन्होंने डायरेक्टर यश चोपड़ा के साथ अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा था कि वह अपनी बात के पक्के नहीं हैं। मैं अब उन पर भरोसा नही कर पाऊंगा। ‘डर’ फिल्म के साथ मेरा एक्सपीरियंस बेहद बुरा रहा है। दरअसल, फिल्म के एक सीन में शाहरुख को सनी के चाकू मारना होता है। इस सीन से सनी देओल खफा हो गए थे। उनका कहना था कि वह एक कमांडो का रोल निभा रहे हैं तो उन्हें कोई भी ऐरा-गैरा आसानी से चाकू कैसे मार सकता है। हालांकि, यश चोपड़ा उनकी इस बात से सहमत नहीं थे और उन्होंने सीन शूट करवाया।

ऐसे में इस सीन को शूट करने के दौरान सनी अपना आपा खो बैठे थे और उन्होंने गुस्से में अपनी पैंट फाड़ दी। फिल्म में शाहरुख एक प्रेमी के किरदार में थे, जो किसी भी कीमत पर किरण (जूही चावला) को पाना चाहता है। फिल्म ऑफर करते हुए यश चोपड़ा ने सनी को ऑफर दिया था कि वह राहुल मेहरा और सुनील मल्होत्रा में से एक किरदार को चुन लें। उन्होंने सुनील मल्होत्रा के किरदार को चुना। वहीं, शाहरुख नेगेटिव किरदार में दिखे। इंटरव्यू में सनी ने बताया कि उन्होंने नहीं बताया गया था कि फिल्म में हीरो से ज्यादा विलेन को ज्यादा दमदार तरीके से दिखाया जाएगा।

सनी ने आगे कहा था कि जब उन्हें पता चला कि फिल्म की एंडिंग कुछ इस तरह होने वाली है तो वह हैरान रह गए थे। उन्होंने कहा कि मुझसे झूठ कहा गया था। यही वजह है कि मैंने कभी यशराज के साथ दोबारा काम नहीं किया। अपने गुस्से को लेकर उन्होंने कहा, ‘मैं उस समय इतने गुस्से में था कि अपने हाथों से मैंने अपनी ही पैंट फाड़ दी और इस बात का मुझे अहसास तक नहीं हुआ।’ ये देख सेट पर मौजूद हर इंसान हैरान रह गया। इतना ही नहीं सनी देओल का गुस्सा देख सब चुपचाप वहां से खिसक लिए थे। हालांकि, थोड़ी देर बार उन्होंने खुद सेट का माहौल शांत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button