Hindi Articles

उद्धव ठाकरे ने NCB की बैंड बजायी, आर्यन की आड़ में NCB पर साधा निशाना, खूब सुनाई खरी-खोटी

आर्यन खान पर क्रूज शिप ड्र’ग केस को लेकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की कार्रवाई जारी है. इस बीच ड्र’ग्स मामले में महाराष्ट्र का नाम बदनाम होने से नाराज राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का बयान आया है. ठाकरे ने एनसीबी पर भड़कते हुए कहा- आप यहां चिमटी भर गांजा सुंघने वालों को माफिया कहते हो?

किसी एक सेलिब्रिटी को पकड़ते हो, फोटो खींचते हो और ढोल बजाते हो. अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान पर क्रूज शिप ड्र’ग केस को लेकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) का शिकंजा कसता जा रहा है.

गुरुवार को सेशंस कोर्ट में सुनवाई हुई तो आर्यन को जमानत नहीं दी गई. फैसला सुरक्षित रख लिया गया और अगली सुनवाई के लिए 20 अक्टूबर की तारीख तय हुई है.इस बीच मामले को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का बयान आया है.

उद्धव ठाकरे ने एनसीबी पर भड़कते हुए कहा- “पुरी दुनिया में मेरे महाराष्ट्र में ही गांजा- चरस का तूफान व्यापार चल रहा है, ऐसा सब जगह बताया जा रहा है.”उन्होंने कहा- ”मैं फिर से बता रहा हूं, कि जो हमारी संस्कृति है आंगन में तुलसी लगाने की है.

लेकिन ऐसा दिखाया जा रहा है जैसे अब तुलसी की जगह गांजा लगाया जा रहा हो. ऐसा जान बुझकर क्यों कर रहे हो? ऐसा नहीं है कि सिर्फ महाराष्ट्र में ये मिला है. खबर है, मुंद्रा बंदरगाह पर करोड़ों का ड्र’ग्स मिला, कहा है मुंद्रा? गुजरात… सही है? ऐसा नहीं है कि हमारी पुलिस कुछ नहीं कर रही.”

ठाकरे  ने आगे कहा- ”आप यहां चिमटी भर गांजा सुंघने वालों को माफिया कहते हो? किसी एक सेलिब्रिटी को पकड़ते हो, फोटो खींचते हो और ढोल बजाते हो. हमारी पुलिस ने 150 करोड़ रुपये के ड्रु’ग्स बरामद किए हैं. आप चिमटी भर गांजा सुंघते रहो..हमारी पुलिस काम करती है लेकिन खबरें सिर्फ यही आती है कि बेल हुई की नहीं.

गौरतलब है कि 23 साल के आर्यन खान को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने एक क्रूज पर ड्र’ग पार्टी का भंडाफोड़ करते हुए 3 अक्टूबर को सात अन्य लोगों के साथ गि’रफ्तार किया था. एनसीबी ने दावा किया कि आर्यन खान ड्र’ग्‍स लेते हैं. हालांकि आर्यन के पास ड्र’ग्स नहीं मिली थी. इस मामले में  एनसीपी ने भी एनसीबी की कार्रवाई पर सवाल उठाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button