Hindi Articles

जब दिव्या भारती की अधूरी फिल्म ‘लाडला’ के सेट पर श्रीदेवी के साथ हुई डरावनी घटना

नई दिल्ली: अनिल कपूर (Anil Kapoor) और श्रीदेवी (Sridevi) बॉलीवुड की इस फेमस जोड़ी ने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया था। जिसमें से एक थी सुपरहिट फिल्म थी ‘लाडला'(Laadla)। इस फिल्म में श्रीदेवी के दमदार रोल को खूब पसंद किया गया था। ऐसे में आज हम आपको इस फिल्म से जुड़ी एक ऐसी बात बता रहे हैं, जिसके बारें में शायद ही लोग जानते होंगे। दरअसल इस फिल्म की शूटिंग के दौरान श्रीदेवी के साथ अजीबोगरीब चीजें घटित हुई थीं। आइये जानते हैं आगे की कहानी।

दिव्या 80 प्रतिशत शूटिंग कर चुकी थीं फिल्म ‘लाडला’ भले ही सुपरहिट रही हो मगर इसकी शूटिंग के दौरान अजीब चीज हुई थी। जिससे श्रीदेवी के साथ सब डरने लगे थे। दरअसल इस फिल्म के लिए श्रीदेवी से पहले एक्ट्रेस दिव्या भारती (Divya Bharti) को कास्ट किया गया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिव्या भारती ने फिल्म की 80 प्रतिशत शूटिंग खत्म भी कर ली थी, लेकिन उनका अचानक निधन हो गया था।

दिव्या भारती की आकस्मिक मौत से मेकर्स भी मुश्किल में पड़ गए थे, लेकिन फिल्म में दिव्या भारती की हमशक्ल कही जाने वालीं श्रीदेवी को लिया गया और दिव्या की मौत के 6 महीने बाद फिर से इसकी शूटिंग शुरु हुई। इस फिल्म में दमदार एक्टिंग के लिए श्रीदेवी ने अपनी पूरी जान झोंक दी थी। लेकिन इसके बाद भी श्रीदेवी उन्हीं डायलॉग्स पर बार-बार अटक जाती थीं, जिस पर दिव्या भारती अटका करती थीं।

डायलॉग्स पर बार-बार अटकना श्रीदेवी का उन्हीं डायलॉग्स पर बार-बार अटकना जहां दिव्या भारती अटका करती थीं। ऐसे में लोग डरने लगे और सेट पर डर और खौफ का माहौल हो गया। जिसके बाद एक्टर शक्ति कपूर के कहने पर सेट पर गायत्री मंत्र का जाप और सेट्स पर पूजा-पाठ किया गया। सेट पर पूजा पाठ होने के बाद सीन की शूटिंग हुई और श्रीदेवी अपने डायलॉग्स बोल पाई।

आपको बता दें कि राज कंवर द्वारा निर्देशित ये फिल्म सुपरहिट साबित हुई थी और फिल्म ने उस दौर में 12 करोड़ रुपए की कमाई की थी। फिल्म में अनिल कपूर, श्रीदेवी के साथ शक्ति कपूर, अनुपम खेर, रवीना टंडन, फरीदा जलाल जैसे सितारों ने काम किया था।

दिव्या ने की 3 साल में 20 फिल्में वहीं, दिव्या भारती ने अपने तीन साल के फिल्मी करियर में कुल 14 हिन्दी फिल्मों में काम किया था। इसके अलावा उन्होंने 6 साउथ इंडियन फिल्में की। 1992 में दिव्या की पहली हिंदी फिल्म ‘विश्वात्मा’ रिलीज हुई थी। इस फिल्म का गाना ‘सात समुंदर पार’ आज भी काफी पसंद किया जाता है। इसके बाद दीवाना, दिल ही तो है, दिल आशना है, शोला और शबनम, दिल का क्या कसूर, रंग, क्षत्रिय, दुश्मन जमाना , जान से प्यारा, सतरंज जैसी फिल्में दिव्या ने की।

दिव्या भारती की मौत के बाद रंग और शतरंज जैसी फिल्में रिलीज़ हुईं। वहीं उनकी अधूरी फिल्मों को दूसरी हीरोइनों के साथ पूरा किया गया। रंग की हीरोइन आएशा ज़ुल्का ने भी एक इंटरव्यू में सेट पर अजीब चीज़ें होने की बातें शेयर की थीं।

मौत की गुत्थी जहां, श्रीदेवी के बारे में कहा गया कि उनकी मौत शराब के नशे में बाथटब में डूबने से हुई। वहीं, दिव्या भारती शराब के नशे में अपनी बिल्डिंग की बाल्कनी से नीचे गिर गईं थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button